अप्रैल 1992 को " द सिक्योरिटी एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया" नामो बोर्ड का गठन किया गया भारत में शेयरो का केंद्रीय नियंत्रण सेबी के पास होता है। जो सभी निवेशकों के हित में काम करता है SEBI के गठन के फौरन बाद अनुचित शेयर ट्रेडिंग कार्य पर रोक लगा दी गई इसके तुरंत बाद एनएससी "नेशनल स्टॉक एक्सचेंज" का गठन हुआ। जिससे शेयर बाजार में इन्वेस्ट करना और भी आसान हो गया तथा शेयर बाजार और भी पारदर्शी हो गया।

शेयर बाजार क्या है?/राकेश झुनझुनवाला कैसे इन्वेस्ट करते हैं?

अगर आप एक आम इंसान है तो आप शेयर मार्केट में आने के बाद एक आम इंसान नहीं रहेंगे मेरे कहने का मतलब यह है कि अगर आप एक आम इंसान हैं जो किसी दुकानदार के पास जाता है और दुकानदार से कोई वस्तु लेता है और दुकानदार जितना पैसा मांगता है वह व्यक्ति उतना पैसा दुकानदार को दे देता है इससे मालूम पड़ता है कि वह जो इंसान है वह शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं एक चतुर ग्राहक नहीं है बल्कि जब वह शेयर मार्केट में आएगा तब वह एक चतुर इंसान बन जाएगा अब चतुर इंसान कहने का मेरा मतलब यह है क्योंकि शेयर बाजार आपको शेयर ट्रेडिंग अर्थात शेयरों को बेचने व खरीदने का मौका देता है। जबकि आप दुकानदार से केवल वस्तु को खरीद सकते हैं जबकि शेयर बाजार मैं आप बेंच भी सकते हैं अतः इस तरह दोनों हालात को नियंत्रित कर सकते हैं और इस कारण आपका भाग्य खुद अपने हाथ में होता है।

निवेशक;- वे लोग जो कंपनी में अपने पैसे को इन्वेस्ट करते हैं उन्हें हम निवेशक कहते हैं। और निवेशक जो होते हैं वह कम जोखिम लेते हैं क्योंकि वह किसी भी कंपनी में इन्वेस्ट करने के पहले शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं उस कंपनी के बारे में विश्लेषण करते हैं।

निवेशक और स्पेक्युलेशन में अंतर

निवेशक अपने धन को सुरक्षित करने के लिए किसी भी कंपनी में इन्वेस्ट करने के लिए उस कंपनी का विश्लेषण करता है जबकि वहीं दूसरी ओर स्पेक्युलेशन टिप्स के जरिए तथा रिस्क पर वह अच्छा मुनाफा कमाते हैं।

निवेशक की रिटर्न दर की उम्मीद जो होती है वह औसत होती है जबकि स्पेक्युलेशन की रिटर्न दर्ज होती बहुत अधिक होती है।

निवेशक कभी भी पैसा उधार लेकर इन्वेस्ट नहीं करते हैं जबकि स्पेक्युलेशन उधार लेकर पैसा इन्वेस्ट कर देते हैं।

निवेशक की चौथ भवानी की जो संभावना होती है वह बहुत कम होता है क्योंकि वह कंपनी का विश्लेषण कर कर किसी भी कंपनी में इनवेस्ट करता है वहीं दूसरी ओर स्पेक्युलेशन उनकी पैसा गंवाने की जो संभावना होती हुए 50 परसेंट होता है क्योंकि वह टिप्स के जरिए तथा अधिक रिक्स पर पैसा इन्वस्ट करते हैं।

बाजार में स्पेक्युलेशन होने के फायदे

स्पेक्युलेशन शेयरों के भाव में उतार-चढ़ाव लाते हैं इस अस्थिरता के कारण निवेशकों को कम भाव पर शेयर खरीदने का अच्छा मौका मिलता है।

शेयर बाजार एक स्टॉक एक्सचेंज संस्था है जो SEBI (SECURITY AND EXCHANGE FOOD OF INDIA) द्वारा रेगुलेट किया जाता है। कोई भी कंपनी शेयर बाजार में आकर लिस्ट हो सकती है अगर कोई कंपनी शेयर बाजार में आकर लिस्ट होती है तो उन्हें कंपनी का कुछ शेयर लोगों में बांटना होता है जिसे लोग खरीद सकते हैं। अब आप सोच रहे होंगे कि कंपनी का क्या फायदा हुआ है तो आइए उसी को जानते हैं अब कोई कंपनी शेयर बाजार में लिस्ट हो शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं गई है अब लोग उस कंपनी के शेयर को खरीदेंगे अगर उस कंपनी का डिमांड अधिक है और शेयर कम है तो उस कंपनी का जो शेयर प्राइस वह बढ़ेगा जिससे कंपनी के पास अधिक से अधिक धन आएगा और उस धन से कंपनी अपने विकास अपने जो आगे जो बिजनेस स्टार्ट करना चाहते उसमें उस धन को खर्च करेगी और इससे कंपनी का तो फायदा हुआ इसके साथ-साथ लोगों का भी फायदा हुआ।

पर्सनल फाइनेंस: शेयर बाजार में निवेश करते हैं तो जानिए इन 5 नियमों के बारे में, आपको खतरे से बचा सकते हैं

शेयर बाजार में निवेश से पैसा बनाने की संभावना एक ऐसा आइडिया है, जो हर नए निवेशक को उत्साहित करता है। साथ ही उन लोगों के लिए भी जो कम अवधि में फायदा कमाना चाहते हैं। हालांकि जब बाजार उतार-चढ़ाव के माहौल में हो, तब शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं किसी भी तरह के तुरंत रिटर्न की संभावना काफी कम हो जाती है। ऐसे में आपको हम बता रहे हैं कि निवेश के समय कौन से शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं नियम का आपको पालन करना चाहिए।

खुद निर्णय न शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं लें

एंजल ब्रोकिंग के इक्विटी स्ट्रैटेजिस्ट ज्योति रॉय कहते हैं कि आप खुद निर्णय लेकर अपने लाभ को बढ़ाने के लालच को छोड़ दीजिए। पोर्टफोलियो मैनेजर्स और एक्सपर्ट्स की सलाह पर ध्यान दें। सतर्कता से व सोच-समझकर निवेश करें।

शेयर बाइबैक से जुड़ी अहम बातें, जानें इससे कैसे कर सकते हैं कमाई

  • Money9 Hindi
  • Publish Date - November 7, 2022 / 07:00 PM IST

शेयर बाइबैक से जुड़ी अहम बातें, जानें इससे कैसे कर सकते हैं कमाई

अगर आप भी शेयर बाजार में पैसे लगाते हैं तो निश्चित ही आपने भी बाइबैक के शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं बारे में सुना होगा. लेकिन क्‍या कभी आपने यह सोचा है कि आप इससे कैसे पैसे कमा सकते हैं? अगर नहीं तो बाइबैक से जुड़ी अहम बातें जानने के लिए पढ़ें ये आर्टिकल.

बाइबैक: बाइबैक कुछ और नहीं बल्कि आईपीओ का ठीक उलट है. एक आईपीओ में कंपनी आम लोगों के लिए शेयर जारी करती है, जबकि बाइबैक में कंपनी अपने मौजूदा शेयरधारकों से वापस शेयर खरीद लेती है.

रेटिंग: 4.45
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 82